चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में वार्षिक दीक्षांत समारोह 2023 का आयोजन बैचलर ऑफ इंजीनियरिंग (बीई) कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग के 1521 छात्रों को प्रदान की डिग्रियां

By Firmediac news Aug 21, 2023
Spread the love

मोहाली 21 अगस्त (गीता)। चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी (सीयू), घड़ूआं में बैचलर ऑफ इंजीनियरिंग (बीई) – कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग (सीएसई) बैच 2018-22 के वार्षिक दीक्षांत समारोह 2023 के लिए एक विशेष समारोह का आयोजन किया गया। इस अवसर के बजाज आलियांज जनरल इंश्योरेंस के प्रबंध निदेशक और सीईओ तपन सिंघल मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। दीक्षांत समारोह के दौरान कुल 1521 छात्रों को डिग्रियां प्रदान की गईं। 8.85 सीजीपीए के साथ सीएसई बैच के टॉपर सागर कालरा को दीक्षांत समारोह के दौरान स्वर्ण पदक से सम्मानित किया गया।

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के प्रो-चांसलर प्रो. (डॉ.) आर.एस. बावा, वाइस चांसलर अरुण पाटिल, प्रो-वाइस चांसलर डॉ. देवेन्द्र सिंह मन्ना, प्रो-वाइस चांसलर अकादमिक मामले विनय कुमार मित्तल, और रजिस्ट्रार विजय कुमार बंगा भी इस शुभ अवसर पर उपस्थित थे।
दीक्षांत समारोह के दौरान संबोधित करते हुए, बजाज आलियांज जनरल इंश्योरेंस के प्रबंध निदेशक और सीईओ, तपन सिंघल ने कहा, “सफलता कभी भी सफलता की गारंटी नहीं देती है। इसलिए, जब आप असफल हों, तो बुरा मत सोचिए। चीजें हमेशा एक जैसी नहीं रहतीं। आपको कभी असफलता तो कभी सफलता मिलेगी। तपन सिंघल ने आगे कहा, “भारत की विकास गाथा अपने आप घटित होगी। यहां पर अगर आप एक चाय की दुकान भी खोलते हैं, तो कुछ ही वर्षों में आप करोड़पति बन जाएंगे – यही आज का भारत है, और हर भारतीय को इस पर गर्व होना चाहिए।
चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के प्रो-चांसलर डॉ. (प्रो.) आरएस बावा ने उत्तीर्ण होने वाले छात्रों को बधाई देते हुए और उनके सफल एवं सुखद भविष्य के लिए शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा, “चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी अपने छात्रों को सक्षम व्यक्तियों के रूप में विकसित करने के लिए एक उपयुक्त शैक्षणिक वातावरण प्रदान करती है, जो उन्हें अपनी प्रतिभा, कड़ी मेहनत और समर्पण के माध्यम से राष्ट्र निर्माण और विकसित राष्ट्र बनाने की जिम्मेदारी लेने के योग्य बनाती है। उन्होंने कहा कि आज बीई सीएसई बैच पास हो रहा है, संपूर्ण यूनिवर्सिटी छात्रों से अपेक्षा करती है कि वे देश की युवा शक्ति के रूप में अपनी जिम्मेदारी को समझें और इसकी विकास यात्रा में अपनी-अपनी भूमिका निभाएं।
यूनिवर्सिटी की हालिया रैंकिंग पर बात करते हुए डॉ. बावा ने कहा कि चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी ने विभिन्न मापदंडों और क्षेत्रों में उल्लेखनीय प्रदर्शन करते हुए हाल ही में जारी एनआईआरएफ रैंकिंग 2023 में भारत के शीर्ष विश्वविद्यालयों में 27वां रैंक हासिल किया है। उन्होंने कहा “चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी को अखिल भारतीय स्तर पर इंजीनियरिंग में 38वां स्थान दिया गया है। इस वर्ष एनआईआरएफ रैंकिंग में यूनिवर्सिटी का समग्र रैंक 45वां है,।

 

 

Related Post

सिविल सेवा (ईबी) सेवानिवृत्त ऑफिसर्स एसोसिएशन द्वारा प्रकाशित “द गोल्डन एरा” किताब विमोचन  के लिए हिंदी प्रेस नोट   सांसद सतनाम सिंह संधू ने पंजाब सिविल सेवा के सेवानिवृत्त अधिकारियों से भारत के विकास के दृष्टिकोण का नेतृत्व करने की अपील   सांसद सतनाम सिंह संधू ने पंजाब सिविल सेवा के सेवानिवृत्त अधिकारियों के प्रयासों की सराहना ,  राष्ट्र निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए की अपील   पंजाब सिविल सेवा के सेवानिवृत्त अधिकारियों ने लोगों को ‘द गोल्डन एरा’ पुस्तक  की रिलीज़, सांसद संधू ने इस पहल की सराहना   सांसद संधू ने देश के विकास में योगदान देने वाले सेवानिवृत्त अधिकारियों के अनुभव के महत्व पर दिया जोर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *