पंजाब के पानी की एक बूंद भी किसी राज्य को नहींः अमरजीत गिल

By Firmediac news Oct 9, 2023
Spread the love

पंजाब के पानी की एक बूंद भी किसी राज्य को नहींः अमरजीत गिल
मोहाली 9 अक्तूबर (गीता)। पंजाब कांग्रेस पार्टी की ओर से सोमवार को चंडीगढ़ में एस वाई एल मुददे पर जोरदार प्रदर्शन किया गया। इस बीच पंजाब कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राजा वारिंग समेत कई कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया।
उपरोक्त विचार राजीव गांधी पंचायती राज संगठन जिला मोहाली प्रधान पहलवान अमरजीत सिंह गिल, ब्लॉक प्रधान व अन्य कांग्रेसी नेताओं ने व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता एस. वाई एल मुद्दे पर गवर्नर हाउस की ओर बढ़ रहे थे, इसी बीच गवर्नर हाउस पहुंचने से पहले ही कांग्रेस नेताओं को चंडीगढ़ पुलिस ने बैरिकेड लगा कर रास्ते में रोक दिया। इस बीच जब कांग्रेसी बैरिकेड पर चढ़ गए तो पुलिस ने पानी की बौछारें शुरू कर दीं। प्रदर्शन के दौरान पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वारिंग समेत अन्य कांग्रेस नेताओं को चंडीगढ़ पुलिस ने हिरासत में ले लिया गया। इस मौके पर कांग्रेसी लीडर पहलवान अमरजीत सिंह गिल ने कहा कि वह पंजाब के पानी की एक बूंद भी किसी राज्य को नहीं देंगे। उन्होंने और उनके साथियों ने आम आदमी पार्टी पर आरोप लगाया है कि पंजाब की आम आदमी पार्टी सरकार एस. वाई एल के मुद्दे पर दोहरा मापदंड अपनाया जा रहा है वे राज्य की जनता को गुमराह करने के लिए पानी नहीं देने की बात कर रहे हैं, जबकि सुप्रीम कोर्ट में भी उनके पक्ष में दलीलें ठीक से नहीं हो रही हैं। गिल ने कहा कि कांग्रेस पार्टी इन पानी की बौछारों से डरने वाली नहीं है और आने वाले दिनों में भी अपना विरोध जताती रहेगी।

Related Post

सिविल सेवा (ईबी) सेवानिवृत्त ऑफिसर्स एसोसिएशन द्वारा प्रकाशित “द गोल्डन एरा” किताब विमोचन  के लिए हिंदी प्रेस नोट   सांसद सतनाम सिंह संधू ने पंजाब सिविल सेवा के सेवानिवृत्त अधिकारियों से भारत के विकास के दृष्टिकोण का नेतृत्व करने की अपील   सांसद सतनाम सिंह संधू ने पंजाब सिविल सेवा के सेवानिवृत्त अधिकारियों के प्रयासों की सराहना ,  राष्ट्र निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए की अपील   पंजाब सिविल सेवा के सेवानिवृत्त अधिकारियों ने लोगों को ‘द गोल्डन एरा’ पुस्तक  की रिलीज़, सांसद संधू ने इस पहल की सराहना   सांसद संधू ने देश के विकास में योगदान देने वाले सेवानिवृत्त अधिकारियों के अनुभव के महत्व पर दिया जोर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *